एलन मस्क की इंस्पिरेशनल जीवनी, एक इंटरप्रेन्योर | फाउंडर ऑफ़ SpaceX

elon-musk-ki-prabhavi-jivani
Spread the love

एलन मस्क की जीवनी
एलोन मस्क का जन्म 28 जून 1971 को साउथ अफ्रीका की कैपिटल प्रिटोरिया में हुआ था। उनके पिता के फादर एक इंजिनियर थे और उनकी मदर एक मॉडल और डाइटिसिअन थीं। जब एलन 10 साल के थे इनके माता पिता डिवोर्स लेकर अलग हो गए और एलन प्रिटोरिया में अपने पिता के साथ रहने लगे। उनके दो छोटे भाई बहन भी थे जिनपर उनके पिता कोई ध्यान नहीं देते थे। उनकी फैमिली लाइफ काफी टफ रही और वो कभी भी स्कूल में सेट नहीं हो पाए। एलोन बचपन से ही शर्मीले और किताबों में घुसे रहने वाले लड़के थे। लेकिन वो भी दूसरे जीनियस लोगों की तरह एक सेल्फ लर्नर थे वो चीजें दूसरों से बहुत जल्दी समझ जाते थे।

elon-musk-ki-prabhavi-jivani

एलोन ने जस्टिन विल्सन से शादी टूटने के बाद तालुलाह रिले से दूसरी शादी की थी और इनसे भी वह एक बार तलाक लेकर फिर से शादी कर चुके हैं। हलाकि अब एलोन ने फिर से शादी को तोड़ दिया हैं। एलोन के 6 बच्चे थे जिसमे से एक बच्चे की मौत हो गयी थी जिसका नाम नेवडा एलेग्जेंडर मस्क था और अब उनके पांच बच्चे हैं – दमियन, ग्रिफ्फिन, ज़ेवियर, सैक्सन और काई.

पढ़ने में रूचि
उनकी पढ़ने में रूचि के कारण काफी छोटी उम्र से ही उनके हाथ में कोई न कोई किताब रहती थी। 10 साल की उम्र तक उन्होंने बहुत सी ऐसी किताबें पढ़ रखी थीं जो कॉलेज स्टूडेंट्स भी नहीं पढ़ते थे। उनके भाई बताते हैं कि वो 10 घंटे दिन में पढ़ता था और अगर वीकएंड हो तो दिन में दो किताबें खतम कर देता था। जल्दी एक दिन ऐसा आया कि वो स्कूल की लाइब्रेरी की सारी किताबें पढ़ चुके थे और एलोन मस्क को स्कूल की लाइब्रेरी में ज्यादा बुक्स लाने की रिक्वेस्ट करनी पड़ी। स्कूल में एलोन की सक्सेस के कारण कई बदमाश बच्चे उनसे जलते थे इसलिए बार बार वह एलोन को तंग करते, लड़ते थे और एक दिन उन बदमाश बच्चों ने मिलकर एलोन को इतना मारा कि वो बेहोश हो गए और इस घटना के बाद आज भी उन्हें सांस लेने में तकलीफ होती है।

ध्यान लगाना
दोस्तो कम उम्र में ही उन्होंने पूरी दुनिया से डिस्कनेक्ट होकर बस अपनी काम की चीज पर ध्यान लगाना सीख लिया था। ऐसे में वह अपने आसपास में क्या चल रहा है वह सबकुछ भूलकर बस अपने काम पर ही ध्यान लगाया कर लेते थे जिसके कारण कई बार उनके घरवालों को भी इसलिए चिंता हो जाती थी की एलोन को क्या हुआ है।

कंप्यूटर में महारत
9 साल की उम्र में उनका इंट्रेस्ट कंप्यूटर में बढ़ने लगा जब उन्हें पहला कंप्यूटर मिला चलाने को और तब उन्होंने कोमोडोर VIC 20 की प्रोग्राम को तीन दिन में बिना सोये ही खतम कर दी थी जिसे की एक साधारण आदमी को कंप्लीट करने में 6 महीने लगते थे। 12 साल की उम्र में एलोन ने घर पर ही रखे कंप्यूटर पर कुछ बुक्स की मदद से कंप्यूटर प्रोग्रामिंग सीख कर प्लास्टर वीडियोगेम डेवलप कर लिया। बेसिक लैंग्वेज में बने इस वीडियोगेम को उन्होंने 500 डॉलर में एक कंपनी को ऑनलाइन बेच दिया और अपने स्कूल की फीस उन्होंने इसी पैसों से भरी। 

कॉलेज की पढाई
जब एलोन ने 17 साल की उम्र में उन्होंने साउथ अफ्रीका से ही अपनी हाई स्कूल की पढ़ाई पूरी कर ली। इसके बाद वह अपनी मां के पास कैनेडा रहने चले गए और उन्हें वहीं की नागरिकता मिल गई। यहां पर उन्होंने पेंसिलवेनिया यूनिवर्सिटी से बैचलर डिग्री फिजिक्स में और वार्टन स्कूल ऑफ बिजनेस से इकनॉमिक्स की डिग्री हासिल की और यह दोनों उन्होंने सांथ सांथ की थी। यहाँ उन्हें अपना खर्चा चलाने के लिए और पार्ट टाइम जॉब्स भी करनी पड़ी क्यूंकि पैसों की कमी हो रही थी। वहां से मौका देखते ही स्कॉलरशिप लेकर 1992 में यूनिवर्सिटी ऑफ पेनसिल्वेनिया विश्वविद्यालय में व्यवसाय और भौतिकी का अध्ययन किया।

इसके बाद, 1995 में फिजिक्स में पीएचडी करने के लिए वो कैनेडा से यूएसए शिफ्ट हो गए और स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी में एडमिशन ले लिया।

करियर को चुनना
यही वो वक्त था जब वो अपने करियर को लेकर सोचने लगे कि उन्हें अपनी लाइफ में आगे क्या करना है। उन्होंने पांच क्षेत्रों को अपने करियर के लिए चुना जिसमे से पहला था इंटरनेट दूसरी सस्टेनेबल एनर्जी तीसरी स्पेस एक्सप्लोरेशन चौथी आर्टिफिशल इंटेलिजेंस और पांचवी थी ह्यूमन जेनेटिक कोड मोडिफिकेशन एलबम्स। लेकिन उस समय उन्होंने देखा की इंटरनेट बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा था और इस मोके को एलोन मिस नहीं करना चाहते थे इसलिए दो दिन में ही उन्होंने पीएचडी से ड्रॉपआउट ले लिया और अपना ध्यान इंटरनेट में लगाया।

छोटी सी उम्र में मिलिनेयर बनना
साल 1995 में एलोन और उनके भाई किम्बल ने अपने पिता से मिली से मिली पैतृक संपत्ति से एक ऑनलाइन सॉफ्टवेर कंपनी Zip2 बनाई जो आनलाइन न्यूजपेपर पब्लिशर्स इंडस्ट्री के लिए सिटी गाइड का काम करती थी। उन्होंने इसके लिए उन्होंने लोगो को समझाया की आने वाले समय दुनिया इंटरनेट पे ही चीज़ो को सर्च करेंगे इसलिए आप भी अपने बिज़नेस को ऑनलाइन ले आइये हमारे वेबसाइट के जरिये. दोनों भाइयो ने बहुत मेहनत की और धीरे धीरे उनका बिज़नेस चल पड़ा। जब बिज़नेस अच्छा चलने लगा तब मशहूर कंप्यूटर की कंपनी कॉम्पेक्ट ने जिप टू को 307 मिलियन डॉलर्स में खरीद लिया और एलोन तब सिर्फ 27 साल के थे 22 मिलियन डॉलर्स मिलने के बाद एक मिलिनेयर बन चुके थे।

करियर को चुनना – Zip2 कारपोरेशन
यही वो वक्त था जब वो अपने करियर को लेकर सोचने लगे कि उन्हें अपनी लाइफ में आगे क्या करना है। उन्होंने पांच क्षेत्रों को अपने करियर के लिए चुना जिसमे से पहला था इंटरनेट दूसरी सस्टेनेबल एनर्जी तीसरी स्पेस एक्सप्लोरेशन चौथी आर्टिफिशल इंटेलिजेंस और पांचवी थी ह्यूमन जेनेटिक कोड मोडिफिकेशन एलबम्स। लेकिन उस समय उन्होंने देखा की इंटरनेट बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा था और इस मोके को एलोन मिस नहीं करना चाहते थे इसलिए दो दिन में ही उन्होंने पीएचडी से ड्रॉपआउट ले लिया और अपना ध्यान इंटरनेट में लगाया।

PayPal
दोस्तों इतने पैसे मिलने के बाद कोई आम आदमी होता तो जिंदगी भर उन्ही पैसो से ही जवानी काट लेता मगर एलोन किसी और मकसद के लिए धरती पर आये हैं. अब जब वह अपने पैसे जमा करने गए तो उन्होंने देखा की बड़े बैंक्स पैसा जमा करने में बहुत टाइम लगा रहे हैं चाहे वह बड़ी पेमेंट हो या छोटी सी पेमेंट ट्रांसफर। बस फिर क्या था एलोन के तय कर लिया कि अब वो बैंकिंग इंडस्ट्री की इस कमी का ही फायदा उठाएंगे। उन्होंने अपनी सारी जमा पूंजी ही एक नयी कंपनी को खोलने में लगा दी जिसका नाम एक्स डॉट कॉम था। आगे चलकर एक्स डॉट कॉम और कॉन्फ़िनिटी कंपनी जोकि उस समय पर एलोन के प्रतिद्वंदी थी आपस में मर्ज होकर एक ही कंपनी बन गयी जिसे लोग आज पेपाल के नाम से जानते हैं।

हलाकि बाद में पेपाल को ebay ने खरीद लिया वह भी वन पॉइंट फाइव बिलियन डॉलर्स में चूँकि एलोन का शेयर पेपाल में 11% था तो मिलियन डॉलर्स बनाएं। इसके बाद एलोन कुछ बड़ा करने का मन बना चुके थे और अब उनकी नज़र आसमान की तरफ थी।

SpaceX
एक ऊँची कामयाबी पाने वाले आदमी की सोच भी हमेशा एक कदम आगे और ऊँची ही होती हैं इसलिए उन्होंने अब स्पेस में इंसान को बसने का सोचा जिससे की सभी लोग चौंक गए क्यूंकि यह फैसला कोई छोटा नहीं था और न ही कोई सस्ता। इसके लिए उन्होंने 2002 में एक रॉकेट कंपनी स्टार्ट की स्पेस एक्स नाम से जिसका मिशन था सबसे सस्ता रॉकेट बनाना बनाई ताकि लोग स्पेस में ट्रेवल कर सकें और इंसान अलग अलग प्लैनेट पर रह सके। हालांकि उन्होंने स्पेस साइंस और एयरोनॉटिक्स की कोई डिग्री नहीं ली थी लेकिन उन्हें एयरोनॉटिक्स की किताबें घर बरई पढ़कर इतना नॉलेज इकट्ठा कर लिया था कि खुद की प्राइवेट स्पेस एजेंसी स्पेसएक्स बना दी। 

spaceX-office

अब एलोन का मकसद था कुछ ऐसे राकेट बनाये जाएं जिसे की पुनः इस्तेमाल किया जा सके और सांथ ही वह काफी सस्ते भी हों। इसके लिए एलोन रूस भी गए लेकिन उन्हें वहां उनकी बात वहां नहीं बानी तो वापस अमेरिका आ गए फिर उन्होंने खुद से ही राकेट बनाने का फैसला किया और अपने रॉकेट को स्पेस में भेजने की तैयारी की।

अब दोस्तों एलोन राकेट तो बना रहे थे और वह थोड़ा सस्ते भी थे लेकिन वो चलते नहीं थे। वो तीन रॉकेट लॉन्च कर चुके थे जो स्पेस तक नहीं पहुंच पाए और क्रैश हो गए। लेकिन इन तीन बड़े असफलता ने एलोन को फाइनेंशियली कंगाली की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया। इसी दौरान एक ऐसा दौर भी आया जब उनका तलाक भी हो गया। लेकिन फिर भी एलोन ने हिम्मत को न हारते हुए वो अपने चौथे अटेम्प्ट में जुड़ गए जिसके कारण उन्हें कई लोगों ने पागल सनकी तक कहा। लेकिन अक्टूबर 2008 में स्पेसएक्स ने अपना लास्ट रॉकेट लॉन्च किया और वो कामयाब रहा जिसे देख के नासा ने उन्हें वन पॉइंट सिक्स बिलियन डॉलर का कॉन्ट्रैक्ट दे दिया। उनकी कामयाबी से स्पेस इंडस्ट्री में खलबली मच गई कि कैसे एक आदमी जिसने कभी रॉकेट साइंस की कोई खास पढ़ाई नहीं की वो अब स्पेस में सैटेलाइट लॉन्च करने लगा है।

एलोन अब अपनी कामयाबी और आगे बढ़ाते हुए एक राकेट में प्रयोग होने वाले सरे पार्ट्स खुद ही बनाती हैं और अब राकेट को लॉन्च करके वापिस उसी जगह पर लैंड करवाने में भी सफलता हासिल कर ली हैं।

टेस्ला मोटर्स
एलोन का रुझान अब ऑटोमोबाइल सेक्टर की तरफ हो चूका था उनका इरादा अब एक ऐसी कार बनाने का था जिसके लिए इंसान की जरूरत न हो और सबसे जरूरी इससे पर्यावरण को कोई भी नुकसान न हो. इसके लिए उन्होंने इलेक्ट्रिक कार कंपनी में इन्वेस्ट किया जिसका नाम था टेस्ला। टेस्ला का मकसद था पूरी कार इंडस्ट्री को बदल के रख देना लेकिन उस वक्त तक अमेरिका की पूरी हिस्ट्री में कोई भी लैक्टिक कार कंपनी कामयाब न हो सकी थी। टेस्ला मोटर्स का फ्यूचर बहुत ब्राइट है एलोन ने इसे पहले ही भांप लिया था क्यूंकि आनेवाला टाइम लैक्टिक कार्स का है।

इसके लिए एलोन ने शामे ही इकोनॉमिस्ट फॉर्मूले पे काम किया और टेस्ला में उसे होने वाले 83% पार्ट्स को खुद बनाने लगे जिससे की उस गाड़ी का खर्चा काफी काम हो गया लेकिन अभी भी टेस्ला गाड़ी में उसे होने वाली बैटरी को नहीं बना रही थी। जिसका परिणाम के कारण उनकी गाड़ियां अभी थोड़ा मेहेंगी हैं और अपनी इसी कमी को दूर करने के लिए टेस्ला गीगा फैक्ट्री को बनाया जोकि कई देशो में लग चुकी हैं और वहां बैटरी की प्रोडक्शन चालू हो चुकी हैं। और इसका फल उन्हें अपने टेस्ला मॉडल S में देखने को मिला जिसका प्राइस काफी कम हैं और अभी तलाक सबसे ज्यादा बिकने वाली टेस्ला की गाड़ी भी हैं क्यूंकि इस गाड़ी को लेकर ग्राहकों का रिव्यु भी काफी अच्छा हैं।

सोलर सिटी
एलोन की इन्ही सफलताओ को देखते हुए ही इन्हे इस सदी का आयरन मैन भी कहा जाता हैं। इसके बाद भी एलोन नहीं रुके उन्होंने दुनिया में सोलर एनर्जी को और बढ़ने के लिए उन्होंने अगस्त 2016 में सोलर सिटी से समझौता किया जोकि उन्ही के चचेरे भाइयो की कंपनी थी जिसे खोलने के लिए एलोन ने काफी मदद भी की थी और बाद में टेस्ला मोटर ने सोलर सिटी को खरीद लिया। अब सोलर सिटी टेस्ला मोटर्स के अंदर काम करती हैं जोकि बड़े रूप में ग्रिड-स्केल, ऊर्जा उत्पाद करके उन्हें संग्रहीत करने और उपभोग करने के तरीके में निरंतर सुधार करते हैं।

हाइपरलूप
हाइपरलूप ये एक ट्रांसपोर्टेशन और पब्लिक ट्रांसपोर्ट प्रोजेक्ट है जिसमें लोग बैठ कर एक हजार किलोमीटर से ज्यादा की स्पीड से ग्राउंड लेवल पर सफर कर पाएंगे । ये वैक्यूम और मैग्नेटिक एनर्जी पर बना अपनी तरह का पहला प्रोजेक्ट है जो अभी ट्रायल पीरियड में जो पूरा होने पर ग्राउंड लेवल पर दुनिया का सबसे फास्ट ट्रांसपोर्ट सिस्टम बन जाएगा जो बुलेट ट्रेन से भी फास्ट होगा।

Elon-musk-hyperloop-design

अब अगर आप एलोन के आविष्कारों को सुन कर अब थक चुके हैं तो यह तो अभी शुरुआत हैं अभी तो एलोन बहुत कुछ करने की इच्छा रखते हैं.

एआई और नेउरालिंक
दोस्तों आपको पता हैं की एलोन एक विशनरी आदमी हैं जोकि दूर की सोच रखते हैं। इसके मद्देनज़र उनके एक और चर्चित प्लान यानि न्यूरालिंक नामक एक परियोजना की जुलाई 2019 घोषणा की हैं। इस परियोजना का उदेशय हैं मानव दिमाग को मशीनो से जोड़ना जैसा की आपने कुछ फिल्मो में देखा हैं – टर्मिनेटर। एलोन चूँकि AI की सफलता से काफी प्रेरित हैं इसलिए उन्होंने एक संस्था बनायीं OpenAI के सह-अध्यक्ष बन गए हैं और संस्था केवल मानवता की भलाई के लिए यह काम कर रही हैं अर्थात इसमें एलोन का कोई लाभ नहीं हैं।

एलोन का उदेश्य मनुष्य को साईबोर्ग में परिवर्तित करने का हैं जिससे की मनुष्य की क्षमता को बढ़ाया जा सके और मनुष्य भविष्य में AI के बराबर अपने आप को विकसित कर ले वरना कहीं मनुष्य ने अपने आप को विकसित नहीं किया और AI को कंट्रोल करने में असमर्थ रहा तो AI मनुष्य के लिए खतरनाक साबित हो सकता हैं।
द बोरिंग कंपनी
लोगो को सड़को पे लगने वाले लम्बे जाम और समय की बर्बादी से मुक्त करने के लिए ही इस प्रोजेक्ट को सुरु किया गया हैं जिसके अंतगर्त बोरिंग कंपनी शहर में उबाऊ और सुरंगों का निर्माण करती हैं। यहाँ आपको बता दे की एलोन ने परिक्षण के तौर पे स्पेसएक्स की सम्पति पे पहली खुदाई शुरू की थी।

अभी हाल ही में इस कार्य की पहली सफलता को कंपनी ने अपने वेबसाइट के पेज पे एक कार रेस के रूप में प्रस्तुत किया हैं जिसमे एक कार को रोड से जाने में 4 घंटे 45 मिनट का समय लगा जबकि बोरिंग का उपयोग करने वाली कार को 1 घंटा 45 मिनट लगा. यह लोगो के यातायात की रूपरेखा को पूरी तरह से बदल देगा।

सेमी ट्रक
इलेक्ट्रिक गाड़ियां अब टेस्ला का मजबूत हिस्सा हैं और इसी चरण में आगे बढ़ते हुए अब टेस्ला ट्रक इंडस्ट्री में भी अपने हाथ आजमाए हैं और इसके तहत कंपनी ने इलेक्ट्रिक ट्रक को बनाया। टेस्ला ने इस ट्रक पर 1.6 मिलियन किल्लोमीटर तक की गारंटी दी हैं और 2019 से इसका प्रोडक्शन चालू हो जायेगा। इसकी खासियत यह हैं की यह 5 सेकंड में ही 96 किलोमीटर की स्पीड पकड़ लेता हैं। एक बार चार्ज होने पर यह ट्रक 800 किलोमीटर तक की दूरी तय कर लेगा और इसमें आप 40 टन तक माल धो सकते हैं। जैसा की आप सभी जानते हैं की बड़ी गाड़ियों से पोल्लुशन भी ज्यादा होता हैं ऐसे में पर्यावरण के दृटिकोण से यह ट्रक एक कारगर उपाय हैं।

साइबर ट्रक
अब बात इलेक्ट्रिक व्हीकल की चल रही हैं तो आपको यह भी बता दें की हाल ही में टेस्ला ने अपने इलेक्ट्रिक पिक उप व्हीकल साइबर ट्रक का भी लॉन्च किया हैं। कंपनी ने इसे बुलेटप्रूफ सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बनाया हैं हलाकि आप को बता दें की लॉन्च इवेंट में जब एक मेटल बाल को गाड़ी के शीशे पर मारा गया तो वह टूट गया था और इसे देख एलोन भी चौंक गए थे। अभी यह मान लिया जा सकता हैं की किसी खामी के कारण ऐसा हुवा होगा क्यूंकि एलोन ऐसी गलती काम ही करते हैं जिसमे की ग्राहकों के सांथ धोखा किया जाये।

Elon-Musk-biography

इसे तीन वैरिएंट में बाजार में उतरा जायेगा जिसमे से एक 250, 350 और 500 माइल्स रेंज पर आधारित हैं जोकि 400, 480 और 800 किलोमीटर की दूरी तय कर सकता हैं 3000, 4000 और 5,600 किलो तक का सामान उठा सकता हैं।

आशा करते हैं की आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी अगर आप इस आर्टिकल में दिए हुए किसी भी सूचना से खुश नहीं हैं तो आप हमें कॉन्टेक्ट कर सकते हैं या मेल कर सकते हैं digitalworldreview@gmail.com पर।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *