“कर्सड” वेब सीरीज का रिव्यू हिंदी में, सीरीज में क्या अच्छा है और क्या बुरा, सीरीज के किरदार

cursed-web-series-ka-review-hindi-mein-star-cast
Spread the love

“कर्सड” वेब सीरीज कैसी है
“कर्सड” वेब सीरीज एक विंटेज, फैंटसी, ड्रामा, एडवेंचर, एक्शन और अच्छाई की बुराई से लड़ाई पे आधारित कहानी है जिसे की आप नेटफ्लिक्स पर देख सकते हैं। यह सीरीज “द किंग ऑफ़ आर्थर” के पहली की कहानी को दर्शाती है जहाँ दिखाया गया है की किंग आर्थर की तलवार कैसे आर्थर तक पहुँचती है। सीरीज की मुख्य भूमिका में आपको नज़र आएँगी नीमए (कथरीने लैंगफोर्ड) जोकि सीरीज में सबको निराश कर रही हैं क्यूंकि एक्टिंग में एक वारियर वाली इमोशंस नहीं देखने को मिल रहे हैं।

इस सीरीज को बनाने का आईडिया डायरेक्टर ने इस नाम पे आधारित एक नावेल से लिया है जिसे लिखा था टॉम व्हीलर ने और इसमें ग्राफ़िक का काम किया था फ्रैंक मिलर ने। इस सीरीज को डायरेक्ट किया है जेतना फुएंतेस ने जिसमे जेतना कुछ ही हद तक कामयाब हुए हैं क्यूंकि इस सीरीज में आपको कुछ नया नहीं देखने को मिलने वाला है क्यूंकि कहानी आपको कुछ-कुछ गेम्स ऑफ़ थ्रोन्स, द विचर, नारनिआ से मिलती जुलती लगेगी।

इस सीरीज में कुल 10 एपिसोड्स हैं और हर एपिसोड 50-60 मिनट का है जोकि एक वेब सीरीज के लिए काफी लम्बा समय है। हमारी राय में यह इतनी भी अच्छी नहीं है की आप अपना कीमती समय इस पर बर्बाद कर दें लेकिन फिर भी अगर इसे देखने का मन बना चुके हैं तो आप इसे एक बार जरूर देख सकते हैं।

सीरीज सस्पेंस के लिहाज से आपको थोड़ा जरूर पसंद आएगी लेकिन बहुत से राज़ डायरेक्टर सीजन 2 के लिए रख दिए हैं। डायरेक्टर ने इस सीरीज के लिए काफी मेहनत की है जोकि इसके प्रोडक्शन की क्वालिटी को देखकर भी पता लगता है लेकिन कोरोना टाइम को भुनाने के चक्कर में इस सीरीज को थोड़ा जल्दी लांच कर दिया गया है जिसे की आप सीरीज को देखने पे महसूस करेंगे बहुत जगह पर दृश्य और एनीमेशन बिलकुल बचकाने से लगते हैं।

आप इस आर्टिकल को इंग्लिश में भी पढ़ सकते हैं।

“कर्सड” सीरीज की रेटिंग
इस सीरीज को IMDB पे 5.5 रेट मिला है 10 में से और वहीँ हम इस सीरीज को 5 में से 2.5 स्टार देंगे। राटन तोमाटोएस पे 72% मिला है और गूगल पे इसे 85% दर्शको ने लाइक किया है।

 “कर्सड” सीरीज में क्या अच्छा है?
सीरीज के डायरेक्शन पे अच्छे से मेहनत की गई है जिसके कारण सीरीज का ओवरआल लुक आपको काफी पसंद आएगा और आप अपने आप को एक फैंटसी वाली दुनिया में महसूस करेंगे।

सीरीज में करैक्टर बिल्डिंग और सीरीज के इंट्रो पे भी अच्छे से ध्यान दिया गया है इसलिए आपको शुरू के कुछ एपिसोड्स से सीरीज का मैन प्लाट और सीरीज के किरदारों के बारे में अच्छे से समझ में आ जाता है। सीरीज की कहानी को भी इतना मुश्किल नहीं बनाया गया है की आप इसे समझ ही न पाए।

सीरीज की खासियत इसके कलाकारों की एक्टिंग भी है जोकि आपको अच्छी लगेगी मगर ऐसा भी नहीं की किसी कलाकार ने बहुत ज्यादा अच्छा काम किया हो लेकिन सभी किरदार अपने काम से आपको जरूर बाधें रखेंगे।

सीरीज के किरदारों के सांथ थोड़ा ट्विस्ट करने की कोशिश की गयी है ऐसे में जब भी आपको लगेगा की यह किरदार अच्छा है तो वह बुरा बनता चला जाता है और सबसे कमजोर किरदार आगे चलकर ताकतवर बन जाता है।

“कर्सड” सीरीज में क्या बुरा है
“कर्सड” सीरीज में के 10 एपिसोड्स बहुत ही ज्यादा बड़े बना दिए गए हैं और कहानी उसके हिसाब से बहुत स्लो है। कुछ एपिसोड्स में आपको कहानी का पेस आपको जरूर एंगेजिंग लगेगा लेकिन ओवरआल सीरीज थोड़ी धीमी है।

सीरीज की मैन किरदार नीमए की अदाकारी आपको काफी निराश कर देगी क्यूंकि पूरी सीरीज एक्शन और ड्रामा पर बेस्ड है मगर इन सभी मामलो में कथरीने लैंगफोर्ड की अदाकारी आपको निराश ही करती है। सीरीज में जिन किरदारों ने बहुत अच्छा काम किया है उनका रोल बहुत ज्यादा नहीं है जिससे दर्शक सीरीज से टूटने लग जाते हैं।

सीरीज की टार्गेटिंग ऑडियंस को लेकर भी डायरेक्टर ने जरूर कंफ्यूज किया है क्यूंकि इस सीरीज के ट्रेलर को देखकर लग रहा था की इस सीरीज का टारगेट ऑडियंस बच्चे भी हैं लेकिन कुछ एडल्ट दृश्यों ने इस सीरीज को सिर्फ एडल्ट जॉनर में लेकर रख दिया है।

“कर्सड” का डायरेक्शन, कहानी और म्यूजिक
सीरीज का डायरेक्शन काफी अच्छा है आपको रियल फैंटेसी दुनिया का अनुभव होगा हलाकि सीरीज का एनीमेशन और CGI थोड़ा वीक जरूर है लेकिन फिर भी आप अपने आप कहानी से जरूर बाँध लेंगे। सीरीज की कहानी में कुछ भी नया नहीं है लेकिन किरदारों को अच्छे से भुनाने की कोशिश जरूर की गयी है। सीरीज का म्यूजिक भी आपको औसतन लगेगा।

“कर्सड” सीरीज की स्टार कास्ट
कथरीने लैंगफोर्ड: नीमए, डिवॉन टेर्रेल्ल: आर्थर, गुस्ताफ स्कारसगार्ड: मर्लिन, डेनियल शरमन: वीपिंग मोंक, सेबेस्टियन आर्मेस्तो: किंग उठेर पेन्ड्रागान, लिली नूमार्क: प्यम, शालोम ब्रुने-फ्रेंक्लिन: सिस्टर ईग्रेने, पीटर मुल्लां: फादर करदें, एमिली कट्स: सिस्टर आईरिस, बील्ली जेंकिन्स: स्क्वीररेल, मैट स्टोकोई: गावैं, जेस्पर जैकब: सर बोरले, डाकू ओनोनागबो: केज, क्लीवे रसल्ल: तुसक कमांडर, अश्ली बन्नेर्मन: कोरा, पोली वॉकर: लेडी लुनते, सोफ़िया ऑक्सेनहम: एडिस

अगर इस आर्टिकल से रिलेटेड कोई भी सुझाव और शिकायत है तो हमें digitalworldreview@gmail.com पर मेल करें


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *