कुणाल खेमू की जबरदस्त सस्पेंस वेब सीरीज अभय सीजन 2 का हिंदी रिव्यू, सीरीज में क्या अच्छा है और क्या बुरा, किरदार, सीरीज की कहानी का प्लाट

abhay-season-2-web-series-ka-hindi-review-kirdar-kahani
Spread the love

अभय सीजन 2 वेब सीरीज कैसी है?
दोस्तों अगर बात की जाये उन चेहरों की जिन्हे अच्छा प्लेटफार्म नहीं मिला वरना परदे पर छाने का टैलेंट यह भी रखते हैं तो आप कुणाल खेमू का नाम भी जरूर लेंगे फिर चाहे वह एक्शन, रोमांस की बात हो या कॉमेडी की। कुनाल खेमू ने हर एक किरदार को बखूबी निभाया है इसलिए उन्हें नए और अच्छे किरदारों में गिना जाता है और उनके पास हर तरह के रोल के ऑफर आते रहते हैं। अभय सीरीज एक सस्पेंस और थ्रिल पर आधारित वेब सीरीज है जिसका पहला भाग काफी ज्यादा पसंद किया गया था इसी पसंद को भुनाते हुए बी.पी.सिंह इसका दूसरा सीजन लेकर आये हैं।

इस सीजन में हमें पहले सीजन के मुकाबले में ज्यादा बड़े टीवी चेहरे देखने को मिले हैं जैसे चंकी पांडेय, राम कपूर। लेकिन क्या इन बड़े चेहरों का फायदा इस सीजन में पूरी तरह से उठाया गया है तो जवाब है नहीं। आप इस सीरीज को देखकर एन्जॉय तो करते हैं लेकिन टुकड़ो में, ऐसा पता नहीं क्यों किया गया है मगर डायरेक्टर के इस कदम से इस सीजन में दर्शकों का उत्साह जरूर कम हुआ है क्यूंकि किसी एक सीजन को तीन भागो में दर्शकों के बीच लेकर जाना कहीं से भी अच्छा आईडिया नहीं कहा जा सकता है।

अच्छे कलाकार भी आपको सिर्फ अपनी अदाकारी से सीरीज या फिल्म को देखने के लिए उत्साहित कर सकते हैं मगर आप दर्शकों को अगर आधी अधूरी कहानी दिखाकर उनका उत्साह कम नहीं कर सकते हैं इससे आपकी सीरीज के डूबने का खतरा ज्यादा बन जाता है क्यूंकि दर्शक उस माहौल में अपने आपको ढालने की कोशिश बार बार नहीं करेगा इसलिए हो सकता है की जब आप सीरीज का आखिरी भाग लेकर आएं तो दर्शक उसे देखें ही नहीं।

इस सीरीज को ज़ी5 के प्लेटफार्म पर रिलीज़ किया गया है पहले सीजन की ही तरह और इसमें भी आपको पहले सीजन की तरह अभय एक पुलिस अफसर के रोल में नज़र आने वाले हैं जोकि गुनहगारों को पकड़ रहे हैं लेकिन इस बार उनके सामने चुनौती है एक शातिर मुजरिम से तो कैसे अभय इस समस्या को सुलझाते हैं यही इस सीजन की मुख्य कहानी है।

आप इस आर्टिकल को इंग्लिश में भी पढ़ सकते हैं।

क्या अभय सीजन 2 वेब सीरीज हमें देखनी चाहिए? 
अभय सीजन 2 के अभी पूरे एपिसोड्स लांच नहीं किये गए हैं इसलिए हो सकता है की आप आधी कहानी देखकर थोड़ा गुस्सा जरूर करें इसलिए हमारी राय में जब इसके पूरे एपिसोड आ जाएं तब ही इसे देखें। कहानी और कांसेप्ट पहले सीजन की ही तरह है बस इस सीजन की कहानी बेहतर तरीके से पेश की गयी है इसलिए आपको इसे देखकर आनंद जरूर आएगा।

इस सीरीज को आप अपने परिवार के सांथ बिलकुल भी न देखें और खासतौर पर अगर आप हिंसा को ज्यादा पसंद नहीं करते तो आपको यह सीरीज नहीं देखनी चाहिए।

अभय सीजन 2 वेब सीरीज की रेटिंग कितनी है?
हम इस सीरीज को कुणाल खेमू की एक्टिंग और राम कपूर के खौफनाक पागलपन के लिए 5 में से 3 स्टार देंगे

अभय सीजन 2 वेब सीरीज में क्या अच्छा है?
सीरीज की कहानी पहले सीजन के मुकाबले ज्यादा एंगेजिंग और जुडी हुई लगती है जिससे आप कहानी को आसानी से समझ पाते हैं।

सीरीज में बड़े चेहरे देखने को मिलेंगे जिन्होंने काफी अच्छा काम किया है। सीरीज में हर किरदार का काम आपको अच्छा लगेगा क्यूंकि इस बार हर किरदार के करैक्टर बिल्ड पर ज्यादा ध्यान दिया गया है जिससे किरदार का काम और भी अच्छा बन जाता है।

सीरीज को देखते हुए आप ज्यादा बोर नहीं होंगे क्यूंकि सीरीज की कहानी बिलकुल सटीक और मुद्दे पर ही लिखी गयी है।

अभय सीजन 2 वेब सीरीज में क्या गलत है?
सीरीज की कहानी को तीन भागो में दर्शकों के बीच लांच किया जा रहा है जोकि सबसे बड़ी गलती कही जा सकती है।

सीरीज हलाकि आपको बोर नहीं करती है लेकिन आपको यह जरूर लगेगा की कहानी को थोड़ा और बड़ा बनाया जा सकता था।

कई दूसरी सीरीज की ही तरह यहाँ भी आपको नकली लाइटिंग का इस्तेमाल देखने को मिलता है, जहाँ रात की शूटिंग को दिन में करके उसे रात का दिखाने की कोशिश की गयी है लेकिन यह अपने के प्रति धोखे जैसा लगता है।

अभय सीजन 2 वेब सीरीज का डायरेक्शन, स्क्रीनप्ले और म्यूजिक कैसा है?
सीरीज का डायरेक्शन क्वालिटी औसतन है क्यूंकि कहीं पर डायरेक्टर ने दृश्यों को बिलकुल अच्छे दिखाया है लेकिन वहीँ नकली लाइटिंग का इस्तेमाल और किरदारों के बहुत ही छोटे रोल सीरीज का मजा किरकरा जरूर कर देते हैं।

सीरीज का स्क्रीनप्ले पहले सीजन से अच्छा है इसलिए हर एक कहानी कहीं न कहीं एक दुसरे से जुडी हुई लगती है।

सीरीज का म्यूजिक आपको थोड़ा निराश करेगा क्यूंकि यहाँ उतना बेहतरीन काम देखने को नहीं मिला है।

अभय सीजन 2 वेब सीरीज की कहानी का प्लाट हिंदी में
इस सीजन की कहानी को एक दुसरे से जोड़ने की कोशिश की गयी है लेकिन इसके लिए एक कड़ी रखी गयी है जोकि एक किडनैपर है। यह किडनैपर अभय के सामने कई बच्चों को बचाने की शर्त रखता है लेकिन बदले में उसे कुछ मुजरिमो को पकड़ना है। अभय को न चाहते हुए भी अब उन सभी मुजरिमो को पकड़ना है ताकि बच्चों तक वह पहुँच सकें और उन्हें बचा सके।

सीरीज की पहली कहानी एक दुकानदार की है जोकि होनहार बच्चों को मारकर उनका दिमाग खा जाता है जिससे उसका दिमाग भी तेज़ हो सके लेकिन इस जूनून में वह इतना आगे बढ़ जाता है की वह अपनी पत्नी को भी मारकर उसका दिमाग खा जाता है। इस रोल को चंकी पांडे में काफी अछि तरह से निभाया है।

सीरीज की दूसरी कहानी एक वेश्या की है जोकि अपने अपमान और जुल्मों का बदला अपने ग्राहकों को मारकर लेती है लेकिन इस कोशिश में वह अपने सच्चे प्यार को भी कुर्बान करने को तैयार हो जाती है और उसे भी मरना चाहती है।

तीसरी कहानी एक पुलिस अफसर की है जोकि अपने पुरखों की एक किताब के नुस्खे को सच मान बैठा है की लोगो के खून से नहाने से वह कभी नहीं मरेगा और उसे काफी ताकत मिलेगी। अभय वक़्त रहते इस केस को पुलिस अफसर द्वारा की गयी गलतियों से ही सुलझा लेता है।

चौथी कहानी एक लड़की की है जोकि मानसिक रूप से बीमार है और वह जवान लड़कों से शादी करके उन्हें मार देती है। इस लड़की की शादी बचपन में ही हो गयी थी लेकिन उसने अपने पति को मार दिया था और वहां से भाग गयी थी। इस घटना का उसके दिमाग पर गहरा असर होता है और वह अब इस तरह से खून करके कई जवान लड़कों को मार चुकी है।

हर एक केस को सुलझाने के बदले किडनैपर कुछ बच्चों को छोड़ देता है लेकिन अंत में क्या अभय सभी बच्चों को छुड़ाने में कामयाब हो पायेगा। सवाल यह भी है की यह किडनैपर कौन है और वह यह सब कुछ क्यों कर रहा है, यह तो पूरी सीरीज देखने पर ही पता लगेगा।

अभय सीजन 2 वेब सीरीज के किरदार
कुणाल खेमू, राम कपूर, चंकी पांडे, आशा नेगी, बिदिता बाग, राघव जुयाल, इंद्रपाल सेनगुप्ता, निधि सिंह और अशीमा वर्धन

अगर इस आर्टिकल से रिलेटेड कोई भी सुझाव और शिकायत है तो हमें digitalworldreview@gmail.com पर मेल करें


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *